Meri Kahani meri Zubani By Abhishek Nema 2020

0
80
0
(0)
Meri Kahani meri Zubani
Meri Kahani meri Zubani 2019

Hello, friends, my name is Abhishek Nema. I live in Kurwai in Vidisha district. In today’s article, I am sharing with you some Poetry written by me. And you will find all the Poetry written by me in the “Meri Kalam” category, in this hi Statuslovely.com website. And if you like Poetry written by me, then you can also share them with your friends by copying them. So do not take much time to talk about Meri Kahani Meri Zubani, this is the first article on this website.

Read Also – Daughters Quotes in Hindi 2020

Meri Kahani meri Zubani By Abhishek Nema

1. निभाना पड़ेगा
उस से किये गए हर वादे को अब मुझे निभाना
पड़ेगा
कही वो रुठ ना जाए, इसलिए उसको अब मनना
पड़ेगा
उसकी खुशियों को ही अपनी खुशियां मानकर मुझे जीना पड़ेगा।
अपनी मीटिंग को छोड़ कर उसको शॉपिंग कराने मुझे जाना पड़ेगा।
क्योंकि
उससे किये गए हर वादे को अब मुझे निभाना पड़ेगा।। – Meri kahani

2. किस आश में बैठे हो तुम, अभी तो चलना शुरू किया है।
अभी तो जमीं पर हुँ, अभी आसमान बाकी है।

3. मौत भी आएगी तो कह दूंगा,
चली जाओ अभी हमारा कर्ज़ बाकी है,
इस देश के लिए हुँ जिंदा,
अभी हमारा फ़र्ज़ बाकी है।

4. प्रेम के मंदिर की सबसे ऊंची शिखर है माता
एक छोटे से परिवार की बड़ी सी आश है माता,
अपने निक्कम्मे बेटे के लिए भी, आशीर्वाद का हाथ है माता
पृथ्वी पर जीती जागती, भगवान का रुप है माता।
संघर्ष में सबसे आगे खड़ी हुई ढाल है माता
और खुशी में सबसे पीछे रहने का प्रमाण है माता
अपने हक के लिए लड़ने वाली, एक आवाज़ है माता
खुद दुखी होते हुए भी हमारे आंसू पोछने का रुमाल हूं माता
एक निर्बल व्यक्ति का सबसे बड़ा बल है माता
समर्पण का भाव है माता, सत्य का स्वरूप है माता
जन्न्त का द्वार है माता, अग्नि का ताप है माता
शीतलता का भंडार है माता, करुणामयी है माता
चमत्कार की देवी है माता, ज्ञान की मूरत है माता
जगत जननी है माता, हमारा गौरव है माता
जय माता दी.

कुछ लिखने को जी चाहता है तुम्हारे बारे में

5. कुछ लिखने को जी चाहता है तुम्हारे बारे में
पर सोच रहा हूँ क्या लिखूं में,
क्योंकि तूम तो खुद एक किताब हों,
और किताब को तो पड़ा जाता है।
पर मैने कई किताब पड़ी जो 1 -2 महीने में ही खत्म हो जाती हैं,
पर तुम जो किताब हों खत्म ही नही होती हों
पिछले 3 साल से लगातार पढ़ा जा रहा हूँ।
ऐसा नही है कि में तुम्हे समझ नही पाता हूँ,
बस तुम्हे बार – बार पड़कर ना समझ बनना अच्छा लगता है।

जब तुम्हारी मुस्कान देखता हूँ।
तो अपने उदास चेहरे पर भी मुस्कान आ जाती है।
जब तुम्हे देखता हूँ तो चांद की याद आ जाती है।
पर चांद और तुझ में बहुत फर्क है।
चांद किसी के दिल मे नही रहता
इसलिए लोग चांद को देखने बाहर आते हैं।
पर तुम मेरे दिल मे ही रहती हों
इसलिए तुम्हे में अपने अंदर ही देख लेता हूँ। – Meri Kalam

6. यदि आप में कुछ करने की आग नही,
तो आप जिह नही रहे हों,
आप जीते जिह मर रहे हों।

7. हाँ पढ़ रहा हूँ उसकी कहानी भी
पता चला है वो भी एक लेखक है।

8. जिंदगी की मिठास हैं बचपन
जिंदगी की पहचान है बचपन,
कल की चिंता में अपना आज मत गवाओ
क्योंकि कल हमारी  यादों का ही स्वार्थ है बचपन।

ढूंढ रहा हूँ बचपन के वो दिन कहाँ गए

9. ढूंढ रहा हूँ बचपन के वो दिन कहाँ गए
वो बहते पानी में मेरे नाव के कारोबार कहाँ गये
वो हस्ते खेलते लम्हो के मेरे यार कहाँ गए
ढूंढ रहा हूँ बचपन के वो दिन कहाँ गए

वो स्कुल ना जाने के बहाने,
वो बिना टेंशन रहने के , खेलने कूदने और फिर
सो जाने के, वो सुकून के पल कहाँ गए
ढूंढ रहा हूँ बचपन के वो दिन कहाँ गए

वो सुबह उठाने के लिए मम्मी की डांट
और मेरा फिर से रजाई ओढ़ के सो जाना
वो मस्ती भरे पल कहाँ गए
ढूंढ रहा हूँ बचपन के वो दिन कहाँ गए

वो गली में क्रिकेट खेलना
और बोल खो जाने पर झगड़ना
और फिर एक हो जाना
वो झगड़ो में भी प्यार के अहसास कहाँ गए
ढूंढ रहा हूँ बचपन के वो दिन कहाँ गए
ढूंढ रहा हूँ बचपन के वो दिन कहाँ गए. – Meri kahani

ये कलम कह रही है

10. ये कलम कह रही है, की आज लिख दुँ तेरे बारे में सब कुछ,
लेकिन यह दिल कह रहा है, की एक मौका और दे
नजर कह रही है जाने दे
यह दिल कह रहा है एक दफा और देख ले

11. पूछने चला हूँ में, हाल तेरा,
ना जाने केसा हो गया है, ये व्यवहार तेरा
अब लोट के आ भी जा,  इतना ना मुझको सता
स्वाभिमान खो रहा है तेरी याद में मेरा।

12. यदि हम फ़ैल हो रहे हैं तो
हम सफलता की और बढ़ रहे हैं

13. जग का पालन तुम्ही हों
करता धरता तुम्ही हों
सबकी विनती तुम्ही हों
मेरे कृष्णा तुम्ही हों

14. पूछने चला हूँ में, हाल तेरा,
ना जाने केसा हो गया है, ये व्यवहार तेरा
अब लोट के आ भी जा,  इतना ना मुझको सता
स्वाभिमान खो रहा है तेरी याद में मेरा।

Read Also – Happy Saturday Morning Quotes

मत पुछो मेरे हालात

15. मत पुछो मेरे हालात कैसे हैं
बरसो गुजर जायेंगे लिखते लिखते

16. बड़े महँगे किरदार है ज़िंदगी में साहिब, समय समय पर सबके भाव बढ़ जाते हैं

17. सुबह तो हो गयी
अभी तो शाम बाकी है
ये दिन तो गुजर गया
अभी तो रात बाकी है
आज भी हो गया
अभी तो कल भी बाकि है
कब तक समझाऊ इस दिल को
जन्म तो हो गया
अभी तो मोत बाकी है

18. जिस रास्ते पर में हुँ
उसकी मंजिल तू है
शुरुआत में हूँ तो
अंत तू  है

19. मुझे तो दिल्लगी है पर
यह दुनिया मतलबी है

20. केसी कलाकारी है आपकी
आँखों से आत्मा दिखे
और बन्द आँखों से परमात्मा
आँखों से संसार दिखे
बन्द आँखों से संसार बनाने वाले.

21. बांके बिहारी  तेरे चरणों की मुझे रज धूल चाहिए
कुछ ना सही लेकिन तेरा फूल चाहिए
गाडी चाहिए ना बंगला चाहिए
मुझे तेरे चरणों की रज धूल चाहिए
उठने से पहले तेरा दर्शन
और सोने से पहले तेरा पैगाम चाहिए
मुझे जिंदगी में कुछ नही बस तेरा साथ चाहिए
मैंने तुझे यार माना
तू भी मुझे यार माने
बस वो मुकाम चाहिए

22. लिख रहा हूँ उस रब के लिए
जिसने मुझे इज़ाजत दी है
खुश रहें सभी लोग
ऐसी मैंने प्राथना की है
कृपा होगी उनकी
ऐसा मुझे विस्वास है
भक्तों के कष्टों को हरना
ऐसा उनका रिवाज़ है
मेरे जन्म पर उपहार में
मेरे अश्तित्व का ही ज्ञान दिया
मान दिया सम्मान दिया
माता पिता का साथ साथ दिया
ऐसे ईश्वर के चरणों में मेरा प्रणाम है
जिसने ये सारा संसार दिया. – Meri Kalam

खुद से जीतने की ज़िद में

23. खुद से जीतने की ज़िद में, खुद से हारता जा रहा हुँ मे
खुद को जगाने  की ज़िद में, खुद को सुलाता जा रहा हुँ मे
ऐ मंजिल कहाँ है तु, तुझे पाने की ज़िद मे
तुझे खोता जा रहा हुँ में. – Meri Kalam

24. अगर तुम सामने हों तो
लिखने को जीह चाहता है,
अगर तुम सामने हो तो
प्यार में बह जाने को जीह चाहता है,
तुम हो ही इतनी सुन्दर की
बार बार तुमसे मिलने को जिह
चाहता है

25. क्या था में क्या हो गया हूँ
धीरे धीरे थोड़ा थोड़ा मर सा गया हूँ
कहना चाहता हूँ लेकिन कह नही पाता
समझाना चाहता हूँ पर समझा नही पाता
क्योंकि इस दुनिया को देख कर
थोड़ा डर सा गया हूँ

26. तेरे चरणों के दर्शन हो जाये ये आस दिल में है
ओह माधव त्रिपुरारी जब तक यह सांस दिल में हैं।

27. घडी की घडी पर पता चल रहा है,
की कोन अपना, पराये का किरदार अदा कर रहा है।

28. पिता की शान है बेटियां,
पिता का सम्मान हैं बेटियां,
पिता का अभिमान हैं बेटियां,
इस देश की सफलता का,
परिणाम हैं बेटियाँ।

कुछ लिखना चाहता हूँ

29. कुछ लिखना चाहता हूँ,
लेकिन पड़ने वाला कोई चाहिए..!
कुछ कहना चाहता हु लेकिन,
सुनने वाला कोई चाहिए..!
ये रस्ते तो बन गए हैं लेकिन,
इन रास्तों पर चलने वाला कोई चाहिए..!
मंजिल तो मिल जाएगी लेकिन,
उस मंजिल तक पहुंचाने वाला को चाहिए..!
हुनर तो बहुत है इस दुनिया में बस,
उस हुनर को पहचानने वाला कोई चाहिए..!

Meri Kahani meri Zubani

30. जल जल कर जल रहे हैं उस जल के लिए,
फिर भी हमें कोई परवाह नही उस पल के लिए।

31. हलके से मुस्कुरा कर अपने गम को छुपाना
और बिना हमारे कुछ कहे ही सब कुछ समझ जाना
वो माँ ही तो है
घीले में खुद सो कर हमें सूखे में सुलाना
खुद भूखे रह कर हमें पहले खिलाना
वो माँ ही तो है
खुद की जरूरतों को भूल कर हमारी जरूरतों को पूरा करना,
खुद पीछे रह कर हमें आगे बढ़ाना
वो माँ ही तो है
हमारी ख़ुशी में भी खुदकी ख़ुशी समझना
हमारे दुःख को भी खुद का दुःख समझना
वो माँ ही तो है
जो खुद को भूल कर
सबका ध्यान रखती है
जो सब कुछ सह कर भी
हमेशा चुप रहती है
वो माँ ही तो है
वो माँ ही तो है. – Meri Kalam

Read Also – Good Morning Thursday 

Conclusion

So friends, in this article we talked to you about Meri Kahani Meri Zubani. In which I told all the Kahani, Shayari, Quotes, Meri Kalam, etc. written by me.  That’s all you can find in Meri Kalam Category. So we hope that you liked this article. So if you liked this article, do like it, share it. And if you have any questions or suggestions in your mind that you want to give to us, then please tell through the comment in the comment box below.

Thank you very much for visiting this website and for reading this article.

You Can Also Read

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 0 / 5. Vote count: 0

No votes so far! Be the first to rate this post.

As you found this post useful...

Follow us on social media!

We are sorry that this post was not useful for you!

Let us improve this post!

Tell us how we can improve this post?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.